वीआरवी सिंह ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की

श्रीसंत और डेव व्हाटमोर के साथ वीआरवी सिंह

तेज गेंदबाज विक्रम राजवीर सिंह ने अंतर्राष्टीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है|

5 टेस्ट और दो वनडे मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले वीआरवी सिंह ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है| साल 2006 में भारत के लिए वनडे में डेब्यू करने वाले वीआरवी ने आखिरी बार साल 2007 में बांग्लादेश दौरे में टेस्ट मैच खेला था|

इंग्लैंड के खिलाफ जमशेदपुर में वनडे में डेब्यू करने वाले वीआरवी पहले मैच में 5 ओवर की गेंदबाजी करने के बाद एक भी विकेट नहीं ले पाए थे| अपने दूसरे वनडे मुकाबले में भी वह विकेट लेने में असफल रहे थे| इसके बाद उन्हें भारत के लिए वनडे मुकाबला खेलने का मौका नहीं दिया गया|

स्पोर्टस्टार की रिपोर्ट के अनुसार से वीआरवी ने कहा हैं कि, ”मैं राज्य और देश का प्रतिनिधित्व करने का अवसर देने के लिए बीसीसीआई और पीसीए का आभारी हूँ| मैंने अपनी यात्रा का आनंद लिया और बहुत बेहतर कर सकता था, लेकिन पीठ की चोट ने मुझे इतने लंबे समय तक परेशान किया|"

“मैं इसके लिए किसी को दोष नहीं दे सकता हूँ| मैंने अपनी चोट के झटके से उबरने की पूरी कोशिश की| मैंने अपनी फिटनेस पर कड़ी मेहनत की, लेकिन किसी तरह चोट ने ठीक नहीं हो पाया| मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूँ कि उन्होंने भारत के लिए मुझे खेलने का मौका दिया और ड्रेसिंग रूम को खेल के कुछ महान खिलाड़ियों के साथ साझा किया|"

उन्होंने आगे कहा हैं कि, "मैं एक कोच के रूप में खेल में शामिल होना चाहता हूँ| मैंने सबक सीखा है जिसे मैं युवाओं के साथ साझा करना चाहूंगा|"


By Pooja Soni - 14 Mar, 2019

    Share Via