फारूख इंजीनियर ने कहा कि काश, मैं रिषभ पंत के साथ कुछ सत्र बिता पाता

रिषभ पंत | Getty

रिषभ पंत ने अपने शानदार बल्लेबाजी प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है, लेकिन स्टम्प के पीछे वह प्रभावशाली नहीं रहे|

टेस्ट श्रृंखला के दौरान, कमेंटेटरों और क्रिकेट विशेषज्ञों ने पंत की विकेट कीपिंग क्षमताओं पर सवाल उठाये थे और पूर्व भारतीय स्टम्पर बल्लेबाज फारूख इंजीनियर का मानना ​​है कि पंत की कीपिंग की क्षमताओं को सुधार की बहुत जरूरत है|

स्पोर्टस्टार की रिपोर्ट के अनुसार लीजेंड्स क्लब द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में इंजीनियर ने कहा हैं कि, “रिषभ मुझे अपने युवा दिनों की याद दिलाते हैं| उनका दृष्टिकोण एम एस धोनी की ही तरह हैं| लेकिन इस समय उनके बहुत ऊपर तक की प्रशंसा नहीं की जा सकती हैं|" 

उन्होंने यह भी महसूस किया हैं कि पंत को खुद को एक अच्छा स्टम्पर साबित करने के लिए समय चाहिए| उन्होंने कहा कि, "उनके विकेट कीपिंग में काफी सुधार करने की जरूरत है| यह तकनीकी रूप से इतना गलत है| उन्हें समय दें|"

पूर्व क्रिकेटर को यह भी याद है कि कैसे सचिन तेंदुलकर ने धोनी को सालों पहले अपने पास लाया था|इंजीनियर ने कहा हैं कि, "मैं तब इंग्लैंड में कमेंट्री कर रहा था और धोनी मेरे पास आए थे और मैंने उन्हें कुछ टिप्स दिए थे| काश, मैं उसके साथ कुछ सत्र कर पाता, तो वह मिलियन डॉलर (बेहतर) प्राप्त कर लेता|"

उन्होंने कहा कि, “वह गेंद को बहुत जल्दी छीन लेता है और अपने पैरो को हिलाता भी नहीं हैं| (जसप्रीत) बुमराह ने सीरीज़ में इतनी अच्छी गेंदबाज़ी की, विकेट गिरा दिए और वह (केवल) डाइविंग कर रहे थे| एक अच्छा विकेटकीपर अपने पैरों को आगे बढ़ाता हैं|"


By Pooja Soni - 10 Jan, 2019

    Share Via