AUS v IND 2018-19: रवि शास्त्री ने खिलाड़ियों को अपने ड्राइवर लाइसेंस घर पर ही छोड़कर आने को कहा था

इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह | Getty

भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाज़ी कोच भरत अरुण ने मंगलवार को खुलासा किया हैं कि टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री हमेशा ही खिलाड़ियों से कहते हैं कि वह विदेश में दौरों पर टीम में शामिल होने से पहले अपनी चालक लाइसेंस को घर पर ही छोड़ के आये| 

इंडिया टुडे के साथ एक विशेष साक्षात्कार में बात करते हुए अरुण ने कहा हैं कि भारत के बल्लेबाजों को ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के लिए विशिष्ट लंबाई गेंदबाजी करने के लिए कहा गया था, जिन्हें कटिंग और पुल्लिंग के लिए जाना जाता है, जबकि बल्लेबाजों को कठिनाई से ड्राइव में लालच की याद दिलाई जाती है, खासकर विदेशी परिस्थितियों में|

उन्होंने कहा हैं कि, "रवि भाई हमेशा ही टीम से कहते हैं कि, 'जब भी आप भारत के लिए खेलने के लिए जाते हैं, तो आप अपने चालक लाइसेंस को घर पर ही छोड़ कर आये|' जब हम ऑस्ट्रेलिया में खेलने आये थे, तो उन्होंने इस बात पर जोर दिया था कि ऑस्ट्रेलियाई अपने कट और पुल में बहुत ही अच्छे हैं| हम उन्हें एक भी शॉट्स खेल के लिए नहीं दे रहे हैं|"

पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने टीम इंडिया की सफलता के लिए तेज़ गेंदबाज़ो की क्षमता को भी श्रेय दिया हैं| अरुण ने इस बात पर भी गौर किया हैं कि टीम की तत्परता ने उनके प्रेरक बल के लिए एक-दूसरे की सफलता का आनंद लिया हैं|
 
अरुण ने कहा हैं कि, "टीम इंडिया का गेंदबाज़ी प्रदर्शन न सिर्फ इस सीरीज में बल्कि पूरे साल बहुत ही शानदार रहा हैं| यह वास्तव में बहुत ही शानदार हैं| उन्होंने बहुत ही तेज़ गेंदबाज़ी की और वह कठोर रहे और वह इस पूरे समय में अभिप्राय रहे|" 

उन्होंने कहा हैं कि, "जिस तरह से उन्होंने अपनी फिटनेस पर कठोर काम किया हैं, उसके लिए उनके  फिटनेस स्तर को श्रेय दिया जाता हैं| साथ ही उन्होंने एक-दूसरे के प्रदर्शन को गर्वित भी किया हैं| वह एक-दूसरे की सफलता से खुश होते हैं| ये ऐसे गुण हैं जो वास्तव में टीम के चालक हैं|"

टेस्ट में गेंदबाजी इकाई के प्रदर्शन पर विश्वास करते हुए, अरुण ने कहा हैं कि भारत के पास इंग्लैंड में 30 मई से शुरू होने वाले क्रिकेट विश्व कप के नेतृत्व में एक अच्छी तरह से व्यवस्थित गेंदबाजी समूह है|

उन्होंने कहा हैं कि, "हमारे पास गेंदबाजों का एक बड़ा समूह है|  हमारे पास अच्छे कलाई के स्पिनर, उंगली के स्पिनर हैं और हमारे पास तेज गेंदबाजों का एक अच्छा झुंड है और टीम में हार्दिक पांड्या जैसे हरफनमौला खिलाड़ी हैं| हां, हमारे पास विश्व के लिए एक अच्छा मिश्रण हैं|"
  


By Pooja Soni - 09 Jan, 2019

    Share Via