IPL: मोहम्मद कैफ के अनुसार दिल्ली कैपिटल्स को भारतीय गेंदबाज़ और एक्स-फैक्टर वाले विदेशी खिलाड़ियों की हैं जरुरत

दिल्ली कैपिटल्स के फंक्शन में प्रवीण अम्रे के संग मोहम्मद कैफ | Twitter

11 साल के प्रदर्शन के बाद, दिल्ली की आईपीएल फ्रेंचाइजी ने दिल्ली डेयरडेविल्स से दिल्ली कैपिटल्स में अपना नाम बदल दिया है, लेकिन टीम का संवहलन करने वाले लोग जानते हैं कि अपनी किस्मत बदलने के लिए ये पर्याप्त नहीं है|

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार पूर्व भारतीय बल्लेबाज और दिल्ली कैपिटल्स के सहायक कोच मोहम्मद कैफ ने कहा हैं कि, "जब लोग टूर्नामेंट जीतने के बारे में बात करते हैं, तो वे बल्लेबाजों की बात करते हैं, बड़े हिटर्स, लेकिन मेरा मानना ​​है कि गेंदबाजी को इसका हल निकालना होगा,"  

"यदि आपके पास गेंदबाज हैं जो मुश्किल परिस्थितियों में भी डिलीवर कर सकते हैं तो जीतने वाले मैचों की संभावना कई गुना बढ़ जाती है| सनराइजर्स हैदराबाद, मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स जैसी चैंपियनशिप टीमों के पास जीताने वाले सभी के अच्छे गेंदबाजों थे| यदि बल्लेबाज रन कर रहे हैं, तो निश्चित रूप से, आप अधिकतर मैच जीतते हैं| लेकिन जब वे नहीं करते हैं, खासकर बड़े-बड़े दवाब वाले मैचों या नॉकआउट चरणों में तो आपके पास मैच जीतने के लिए तैयार गेंदबाजों की जरूरत होती है|"

कैफ ने कहा हैं कि, "उम्मीद है कि हम इस समय चीजों पर काम कर सकते हैं और जब विकेट लेने और दबाव में पहुँचने की बात आती है तो काम पूरा हो जाता है|" सहायक कोच ने इस डिलीवर करने के लिए टीम के गेंदबाजों आवेश खान और हर्षल पटेल का समर्थन किया हैं|

उन्होंने कहा हैं कि, "इस साल आवेश बेहतर होगा| वह रणजी खेल रहा हैं और विकेट भी ले रहा हैं| पिछले साल दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए हर्षल पटेल ने भी अच्छा प्रदर्शन किया था| अब दिल्ली कैपिटल्स के लिए उम्मीद है कि वह गेंदबाजी में कुछ अच्छा फॉर्म ला सकती हैं|"

उन्होंने कहा कि, "भारतीय खिलाड़ियों, गेंदबाजों और एक्स-फैक्टर के साथ विदेशी खिलाड़ियों के साथ आगे बढ़ने का सही तरीका है|" एक और पहलू दिल्ली की टीम को सुधारने की उम्मीद हैं और वो हैं उनकी बेंच शक्ति|

प्रवीण आमरे ने कहा हैं कि, "हमारी प्राथमिकता एक अच्छी प्लेइंग इलेवन का चुनाव करना हैं| लेकिन उसके बाद, अगर कोई घायल हो जाता है, तो हमें उसकी जगह उचित बैक अप लेने की आवश्यकता है, ताकि टीम का प्रदर्शन प्रभावित न हो| यह सबसे चुनौतीपूर्ण बात है| हमारे पास एक मजबूत गेंदबाजी इकाई है, लेकिन यहाँ एक भारतीय सीमर के लिए जगह होगी|"

"एक और बात जो ध्यान में रखी जानी चाहिए वह दुनिया का कौन सा हिस्सा हैं, जहा टूर्नामेंट आयोजित किया जाएगा| इसलिए जब हम अपने शेष खिलाड़ियों को चुनते हैं तो हम काफी लचीले होंगे| हां, हमारे पास हमारा मूल है, लेकिन संतुलन एक पूर्ण बेंच शक्ति द्वारा प्रदान किया जाएगा|"


By Pooja Soni - 06 Dec, 2018

    Share Via