कार्ल हूपर ने उन खिलाड़ियों की आलोचना की जो वेस्टइंडीज के लिए खेलने में रूचि नहीं रखते हैं

क्रिस गेल

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान कार्ल हूपर ने टीम के वरिष्ठ खिलाड़ियों की आलोचना की हैं, जो खुद को राष्ट्रीय टीम के लिए उपलब्ध नहीं करा रहे हैं और कहा हैं कि यह रविवार को कोलकाता में पहले T20 अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत के खिलाफ पांच विकेट से हारने के बाद "शर्मनाक" है|

क्रिस गेल ने वनडे सीरीज़ से पहले चयन के लिए खुद को उपलब्ध कराने से इंकार कर दिया था, जबकि सलामी बल्लेबाज इविन लुईस ने टीम का हिस्सा न होने के लिए व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया था| वही सुनील नारायण और आंद्रे रसेल को बाद में चोट की वजह से T20 टीम से बाहर कर दिया गया था|

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार हूपर ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा था कि, "यह शर्म की बात है कि कुछ खिलाड़ी वेस्टइंडीज के लिए खेलने में रूचि नहीं रखते हैं| मुझे नहीं पता हैं कि वे टीम के लिए क्यों नहीं खेलना चाहते हैं, लेकिन यह स्पष्ट है कि उन्हें कोई दिलचस्पी नहीं है|

मेहमान टीम ने मौजूदा भारत दौरे पर टेस्ट श्रृंखला 2-0 से और वनडे 3-1 से हारी हैं| उन्होंने कहा, "यह एक युवा टीम है और इन खिलाड़ियों को समय चाहिए| अगर वरिष्ठ खिलाड़ी यहाँ होते, तो यह भारत के लिए आसान नहीं होता|"

उन्होंने आगे कहा कि, "आईसीसी विश्वकप क्वालिफायर के फाइनल में, हमने अफगानिस्तान के खिलाफ मैच गवा दिया था| अगर हमारे पास पूर्ण ताकत होती, तो हम जीत सकते थे|"
 
हूपर के अनुसार, वर्तमान वेस्टइंडीज टीम की मुख्य समस्या स्थिरता है| उन्होंने कहा कि, "कुछ दिन हम अच्छी तरह से खेले, किसी दिन हम स्थिति के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर पाए| हमें लगातार बने रहने की जरूरत है|"
 
हूपर ने ये भी कहा कि कैरीबियाई में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, लेकिन उन्हें अच्छी तरह से पोषित होने की जरूरत है| उन्होंने कहा कि, "हमारे पास प्रतिभा है, लेकिन उन्हें अच्छी तरह से पोषित करने की जरूरत है| क्रिकेट वेस्टइंडीज को अच्छी नीतियों को अपनाने की जरूरत है| यदि आप शाई होप को देखे, तो उनके पास प्रतिभा है, लेकिन किसी भी तरह वह T20 क्रिकेट के लिए उपयुक्त नहीं है|"


By Pooja Soni - 05 Nov, 2018

    Share Via