जोस बटलर ने क्रिकेट के खेल को केवल एक प्रारूप में बदलने की भविष्यवाणी की

इंग्लैंड के विकेटकीपर-बल्लेबाज जोस बटलर का मानना ​​है कि टी20 क्रिकेट की लोकप्रियता धीरे-धीरे खेल के अन्य प्रारूपों के अंत का संकेत दे सकती है |

स्काई स्पोर्ट से बात करते हुए, बटलर ने एक ही समय में टेस्ट क्रिकेट के महत्व पर जोर देते हुए खेल के सबसे कम प्रारूप के विकास को स्वीकार किया हैं | बटलर ने कहा हैं कि "टेस्ट क्रिकेट अभी भी मेरे लिए, क्रिकेट का शिखर है, लेकिन T20 क्रिकेट स्टेडियमों को दर्शको से बाहर देता हैं और इसके साथ ही इसे बनाये रखना और इसका पालन करना आसान है | हर कोई चाहता है कि इन दिनों इन चीजों को तेजी से बढ़ाना चाहिए और चीजें इतनी विकसित होंगी कि शायद क्रिकेट में सिर्फ टी20 क्रिकेट का ही एकाधिपत्य हो |"

उन्होंने कहा कि, "हम सभी टेस्ट क्रिकेट के इतिहास से प्यार करते हैं | आप कभी भी T20 में फंस नहीं सकते हैं, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में ऐसा हो सकता हैं और आप टेस्ट क्रिकेट में किसी खिलाड़ी के रूप में कभी भी परीक्षण नहीं करेंगे | यह पूरी तरह से एक सम्पूर्ण टेस्ट हैं और यह दुख कि बात होगी | लेकिन एक उत्पाद के रूप में T20 ताकत से ताकत के रूप में विकसित ही होता जा रहा हैं |" 
 

बटलर ने अगले 15-20 वर्षों में खेल को एक प्रारूप के रूप में बदलने की भविष्यवाणी की है, जिसमें T20 का प्रारूप शासन करेगा | उन्होंने कहा हैं कि, "मुझे लगता है कि क्रिकेट भविष्य में एक प्रारूप का खेल बन सकता है, शायद ऐसा जल्द ही हो जाये या फिर अगले 15 से 20 साल में |"

परिणामस्वरूप, उन्होंने अपने टेस्ट कैरियर को फिर से जीवित करने की कोशिश के बजाय, दुनिया भर की विभिन्न T20 लीग में अवसरों का सबसे अधिक फायदा उठाने पर ध्यान केंद्रित किया है | "उम्मीद है कि प्रशासकों को टेस्ट खेल को और अधिक लोकप्रिय बनाने का एक तरीका मिल जाए | यह बढ़िया है और मुझे इसे खेलना अच्छा लगेगा |"


By Pooja Soni - 13 Feb, 2018

    Share Via