एंजेलो मैथ्यूज का लक्ष्य हैं T20I ट्राई-सीरीज़ में वापसी करना

Reuters

अपनी चोट के कारण एंजेलो मैथ्यूज बांग्लादेश में त्रिकोणीय सीरीज और दो टेस्ट मैचों से बाहर हो गए थे | हालाँकि अब अपने पुनर्वास के समाप्त होने के बाद मैथ्यूज T20 में अपनी आगे की कप्तानी के कर्तव्यों को पूरा करने के लिए बांग्लादेश की यात्रा करने की उम्मीद कर रहे हैं |

लेकिन मेडिकल विशेषज्ञों ने उन्हें चोट के तुरंत बाद प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी न करने की चेतावनी दी है | इसकी बजाय, वह निदहास ट्राफी के दौरान वापसी करेंगे, जो कि त्रिकोणीय राष्ट्रमंडल टूर्नामेंट हैं और श्रीलंका के 70 वें स्वतंत्रता वर्ष को मानने के लिए खेला जायेगा |

 30 वर्षीय ने क्रिकबज से बात करते हुए कहा हैं कि, "हर कोई इस आयोजन का इंतज़ार कर रहा है और मैं भी इसके लिए बहुत उत्साहित हूं | सभी खिलाड़ियों के लिए यह एक महान अवसर होगा | भारत एक कठिन टीम है और बांग्लादेश ने कुछ वर्षों से कुछ जबरदस्त सुधारो का प्रदर्शन किया हैं | मेरा मानना ​​है कि यह एक प्रतिस्पर्धी श्रृंखला होगी |"

"मेरी चोटों के साथ, अब मैंने अपनी रणनीति बदल दी है | अतीत में, जैसे ही मैं फिट हो जाता था, मैं खेलने के लिए चला जाता था | यूके के डॉ थिमुंडु बुधथिलेके ने और प्रोफेसर अर्जुन डी सिल्वा जैसे अन्य सलाहकारों ने चिकित्सकीय रूप से देखने की बजाय सावधानी बरतने पर ज़ोर दिया हैं |"

मैथ्यूज ने कहा कि, "अतीत में, मैं जख्मो के पूरी तरह से ठीक होने से पहले ही खेलने चला जाता था | मैं इस समय दौड़ने और अभ्यास करने और अन्य  गतिविधियों को करने में सक्षम हूं | लेकिन खेल की तीव्रता काफी अलग हैं और हमारा रुख अब अलग है | हम इसे पूरी तरह से व्यवस्थित कर देंगे और जब तक ऐसा नहीं होता तब तक मैं फिर से खेलना शुरू नहीं करूँगा | जब मैं चोटिल होता हूँ तो, ये मेरे और टीम के लिए मुश्किल हो जाता हैं |"

उन्होंने आगे कहा कि, "प्रशिक्षण के तरीकों, जिम और मेरी तैयारी के बारे में काफी कुछ बदलाव हुआ हैं | मुझे लगता हैं कि अब हम मांगों को पूरा करने के लिए अच्छी तरह से सुसज्जित हैं | फिर भी, हम केवल चोट को कम कर सकते हैं और इसमें कोई गारंटी नहीं है कि सबकुछ ठीक हो जाएगा | मैं चोट से मुक्त रहने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहा हूं | मैं अपने शरीर को समझ रहा हूं  |"


By Pooja Soni - 13 Feb, 2018

    Share Via